Logo

IND vs AUS: जिस बात का डर था, वही हो गई... ऑस्ट्रेलिया की 'चाल' का शिकार हुए टीम इंडिया के बल्लेबाज

दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच जारी है. मुकाबले के दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक ऑस्ट्रेलिया ने 62 रनों की कुल बढ़त हासिल कर ली है. 

 | 
team india

भारतीय बल्लेबाज ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी सीरीज के दूसरे टेस्ट मैच में कुछ खास नहीं कर पाए. दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान में इस मुकाबले में टीम इंडिया की पहली पारी केवल 262 रन पर सिमट गई. मेजबान इस तरह बढ़त बनाने से चूक गए. दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक ऑस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी में एक विकेट खोकर 61 रन बना लिए हैं और उसकी कुल बढ़त 62 रनों की हो गई है.

262 रन पर सिमटी भारत की पहली पारी

दिल्ली टेस्ट मैच में भारतीय टीम अपनी पहली पारी में दूसरे दिन शनिवार को 262 रन पर ही ढेर हो गई. फिरोजशाह कोटला मैदान पर भारतीय टीम के बल्लेबाज कुछ खास नहीं कर पाए और 83.3 ओवर ही खेल सके.

ऑलराउंडर अक्षर पटेल टॉप स्कोरर रहे जिन्होंने 115 गेंदों पर 9 चौके और 3 छक्के लगाते हुए 74 रन बनाए. पूर्व कप्तान विराट कोहली ने 84 गेंदों पर 4 चौकों की मदद से 44 रन बनाए. उनके अलावा रविचंद्रन अश्विन ने 71 गेंदों पर 37 जबकि कप्तान रोहित शर्मा ने 69 गेंदों पर 32 रन बनाए.

लियोन के सामने पस्त हुई टीम

ऑस्ट्रेलिया के स्पिनर नाथन लियोन ने कमाल का प्रदर्शन किया. दरअसल, कप्तान पैट कमिंस की यही 'चाल' काम भी कर गई. लियोन ने भारत को एक के बाद एक झटके दिए और टीम के लिए सबसे ज्यादा 5 विकेट झटके. लियोन ने 29 ओवर में 67 रन दिए यानी केवल 2.3 का इकॉनमी रेट. उनके अलावा टॉड मर्फी और कुहनेमैन ने 2-2 विकेट लिए. कप्तान पैट कमिंस को एक विकेट मिला.

नाम हैं 460 से भी ज्यादा विकेट

नाथन लियोन अपने टेस्ट करियर का 117वां मैच खेल रहे हैं. वह इस फॉर्मेट की 219 पारियों में अभी तक 466 विकेट ले चुके हैं. वनडे में उन्हें 29 जबकि टी20 इंटरनेशनल में दो ही मैच खेलने का मौका मिल पाया है. पैट कमिंस ने खास रणनीति के तहत उन्हें उतारा.

लियोन ऑफ स्पिनर हैं और भारत के खिलाफ उनका रिकॉर्ड काफी अच्छा भी है. पिछले मैच में भारतीय स्पिनरों ने कमाल दिखाया था, तब लियोन कुछ खास नहीं कर पाए थे. कमिंस ने उन पर भरोसा जताया और दिल्ली टेस्ट में भी मौका दिया.