Logo

लड़की को अपने से बड़ी उम्र के लड़के के साथ शादी करने से होता है ये फायदा, जानिए

शादी के समय लड़के -लड़की के बीच ज्यादा अंतर नहीं होता है, लेकिन बड़ी उम्र केलड़के के साथ शादी करने से ये फायदा मिलता है.
 | 
e

लड़के और लड़की के बीच 3-4 साल का अंतर हो तो उस जोड़ी को अच्छा माना जाता है. ऐसा माना जाता है कि कम उम्र की लड़की बेहतर होती है. पर जमाना बदल रहा है और उसी के साथ मान्यताएं और सोच भी बदल रही है. आज उम्र कोई बहुत बड़ा इश्यू नहीं रह गया है और बॉलीवुड इसका जीता-जागता उदाहरण है.

बॉलीवुड में कई बेमेल जोड़ियां हैं. किसी जोड़ी में लड़की लड़के से बड़ी है तो कहीं लड़का, लड़की से. हाल में हुई हैदर स्टारर शाहिद कपूर और मीरा राजपूत की शादी भी कोई अपवाद नहीं है. शाहिद और मीरा के बीच 13 साल का अंतर है. शाहिद और मीरा के बीच का ये एज-डिफरेंस आपको भले ही अटपटा लगे लेकिन उनके लिए ये बात एक्जिस्ट भी नहीं करती है.

दरअसल, बड़े उम्र के लड़के से शादी करना एक समझदार फैसला होता है. हो सकता है मीरा ने भी यही सबकुछ देखकर शाहिद के साथ शादी के लिए हां कही हो:

1. उम्रदराज पुरुष सफल होते हैं

उम्रदराज पुरुष के साथ शादी करने का सबसे बड़ा फायदा ये होता है कि लड़की को फाइनेंशियल स्ट्रगल नहीं देखना पड़ता है. पति उम्रदराज है इसका मतलब है कि वो सेटल्ड है. उसका करियर सेट है और उसे नौकरी के चक्कर में इधर-उधर भागना नहीं है. ऐसे में लड़की आराम की जिन्दगी बिता सकती है. हर लड़की को ऐसे ही ससुराल की ख्वाहिश करती है जहां उसे इकोनॉमिक क्राइसेस न हो.

2. मैच्योरिटी

उम्रदराज व्यक्त‍ि से शादी करने का दूसरा फायदा ये होता है कि ऐसे लोग इमोशनली काफी मैच्योर होते हैं. किसी हमउम्र शख्स या फिर उम्र में छोटे शख्स से शादी करने से ये कहीं अच्छा विकल्प है. अक्सर हमउम्र या छोटे लड़कों में ईगो आ जाता है जोकि उम्रदराज शख्स में जल्दी नहीं आता. ऐसे लोग परिस्थितियों को ज्यादा अच्छे से संभालने में सक्षम होते हैं.

3. स्टेबिलिटी

उम्रदराज शख्स इमोशनली और प्रोफेशनली दोनों ही तरीके से ज्यादा स्टेबल होते हैं. जबकि युवा हर रोज एक नया एक्सपेरिमेंट करते रहते हैं. हो सकता है उनका ये हर रोज का एक्सपेरिमेंट आपको भी स्टेबल न होने दे.

4. जिम्मेदार

करियर सेट होने की वजह से ऐसे लोग अपनी पारीवारिक जिम्मेदारियों को भी सही तरीके से निभा पाते हैं. उन पर जॉब चले जाने या फिर खुद को साबित करने का प्रेशर नहीं होता है. जिसकी वजह से वो अपने घर-परिवार की जिम्मेदारियों को भी पूरा कर पाते हैं.

5. सेक्स को लेकर भी अनुभवी

उम्रदराज होने का ये एक नुकसान हो सकता है कि आपके पार्टनर के मन में सेक्स को लेकर वो इच्छा न हो जो आप में हो. पर इसे आपसी बातचीत से अनुकूल बनाया जा सकता है. इसी बात का दूसरा पक्ष ये भी है कि अनुभवी होने के नाते आपके पार्टनर को सेक्स लाइफ में आने वाली परेशानियों का पूरा ज्ञान होता है. जिससे कई बातों का घर बैठे समाधान पाया जा सकता है.

6. बदलाव बहुत जरूरी नहीं

उम्रदराज पार्टनर्स आपको अपने अनुसार ढालने में कम भरोसा करते हैं. ऐसे में आपके पास ऐसी जिन्दगी जीने का मौका होता है जिसे आप अपने तरीके से जी सकती हैं. वहीं कम उम्र के पार्टनर हर रोज पत्‍नी को अपनी पसंद की फेहरिश्त थमाते हैं.

7. आपके लिए वक्त ही वक्त

वक्त की समस्या कई बार तलाक का कारण बन जाती है. उम्रदराज होने के नाते आपके पति के पास वक्त की वो तंगी नहीं होगी जो किसी हमउम्र को होती. ऐसे में आप एक खुशहाल जीवन जी सकती हैं जहां आपके पार्टनर के पास आपकी हर छोटी-बड़ी बात को सुनने के लिए वक्त होता है.

8. खुद ही बन जाती हैं सेंटर ऑफ अटरेक्शन

ज्यादा उम्र के आदमी के साथ शादी करने की वजह से आप खुद ब खुद लोगों की नजर में आ जाती हैं. जहां कुछ लोग आपको मौकापरस्त कहते हैं वहीं कुछ आपको ब्रॉड माइंडेड कहते हैं.

इन सभी बातों के अलावा जो सबसे जरूरी चीज है वो ये कि आपके पास अपनी उम्र को अनुभव करने के साथ ही एक मैच्योर शख्स के अनुभव को शेयर करने का मौका मिलता है. जिससे आपके व्यक्त‍ित्व का भी विकास होता है.